Posts

Showing posts from November, 2020

अध्याय- 8 भारत : जलवायु, वनस्पति तथा वन्य प्राणी

Image
  1 निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दीजिए। i कौन-सी पवन भारत में वर्षा लाती है? यह इतनी महत्वपूर्ण क्यों है? उत्तर - मानसूनी पवन भारत में वर्षा लाती है। यह इसलिए जरूरी है क्योंकि भारत का अधिकत्तर किसान वर्षा पर ही निर्भर है। यहाँ यदि वर्ष में अच्छी बारिश होती है तो इसका मतलब है कि यहाँ फसल अच्छी हुई है। ii भारत के विभिन्न मौसम के नाम लिखिए। उत्तर- सर्दी, गर्मी, वर्षा एवं शरद ऋतु iii प्राकृतिक वनस्पति क्या है? उत्तर - घास , झाड़ियाँ तथा पौधे जो बिना मनुष्य की सहायता के उपजते हैं उन्हें प्राकृतिक वनस्पति कहा जाता है। iv भारत में पाई जाने वाली विभिन्न प्रकार की वनस्पत्तियों के नाम लिखिए। उत्तर - भारत में पाई जाने वाली विभिन्न प्रकार की वनस्पत्तियों के नाम इस प्रकार हैं - उष्ण कटिबंधीय सदाबहार वन, उष्ण कटिबंधीय पतझड़ वन, कटीली झाड़ियाँ, पर्वतीय वनस्पति तथा मैंग्रोव वन । v सदाबहार वन तथा पतझड़ वन में क्या अंतर है? उत्तर- सदाबहार वन साल के अलग अलग समय पर अपना पत्ता गिराते रहते हैं और पतझड़ वन साल में एक बार ही अपना पत्ता गिराते हैं। vi उष्ण कटिबंध वर्षा वनों को सदाबहार वन क्यों कहा जाता

अध्याय 7 हमारा देश : भारत 6th NCERT

Image
1 निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दीजिए। i भारत को कितने भौतिक भागों में विभाजित किया जा सकता है? उनके नाम लिखिए । उत्तर - भारत को चार भौतिक भागों में विभाजित किया जा सकता है  1 हिमालय 2 मैदानी भाग 3 महामरुस्थल  4 प्रायद्वीपीय पठार ii भारत की स्थलीय सीमा सात देशों से जुडी है। उनके नाम लिखिए। उत्तर - पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, नेपाल, भूटान, म्यामांर, बांग्लादेश iii कौन सी दो नदियाँ अरब सागर में गिरती हैं? उत्तर- नर्मदा एवं तापी iv गंगा एवं ब्रह्मपुत्र के द्वारा बनाये गए डेल्टा का नाम लिखिए? उत्तर - सुंदरवन डेल्टा  v भारत में कितने राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश हैं? किन दो राज्यों की राजधानी एक ही है? उत्तर - भारत में कुल 28 राज्य और 9 केंद्रशासित प्रदेश हैं। पंजाब एवं हरियाण की राजधानी एक ही है। vi उत्तरी मैदान में अधिक जनसँख्या निवास करती है, क्यों ? उत्तर - नदियों के द्वारा लाये गए जलोढों के निक्षेप से बने होने के कारण यह क्षेत्र बहुत उपजाऊ है इसीलिए इस क्षेत्र में बहुत अधिक जनसँख्या निवास करती है। vii लक्षद्वीप को प्रवाल द्वीप क्यों कहा जाता है? उत्तर - लक्षद्वीप को प्रवाल

अध्याय 6 : पृथ्वी के प्रमुख स्थलरूप 6th NCERT

Image
1. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दीजिए। i  प्रमुख स्थलरूप कौन कौन से हैं? उत्तर - पर्वत, पठार, और मैदान  ii  पर्वत एवं पठार में क्या अंतर है? उत्तर - पर्वत- यह आस पास के क्षेत्र से बहुत ऊंचा होता है।इसका आधार चौड़ा एवं शिखर छोटा होता है। पठार- पठार उठी हुई सपाट भूमि होती है। यह आस पास के क्षेत्र से अधिक उठा हुआ होता है तथा इसका ऊपरी भाग मेज के सामान सपाट होता है। iii  पर्वतों के विभिन्न प्रकार कौन कौन से हैं? उत्तर - वलित पर्वत , भ्रंशोत्थ पर्वत एवं ज्वालामुखी पर्वत iv  मनुष्यों के लिए पर्वत किस प्रकार उपयोगी है? उत्तर - मनुष्यों के लिए पर्वत इसलिए उपयोगी है क्योंकि पर्वत से हमलोगों को जल, खनिज लवण एवं वनस्पति की प्राप्ति होती है। v  मैदानों का निर्माण किस प्रकार होता है? उत्तर - मैदानों का निर्माण अवसादों के अपरदन एवं निक्षेपण की प्रकिर्या द्वारा होता है।  vi  नदियों द्वारा निर्मित मैदान सघन जनसंख्या वाले होते हैं क्यों? उत्तर नदियों द्वारा निर्मित मैदान सघन जनसंख्या वाले इसलिए होते है क्योंकि यह क्षेत्र उपजाऊ होते हैं एवं परिवहन या अन्य आधारभूत संरचना का निर्माण करना आसान ह

Some Important Question - 2

Image
 1 बाह्यदल, पंखुड़ी, पुंकेसर, एवं स्त्रीकेसर ये सभी किसके भाग हैं? उत्तर - पुष्प के 2 गर्दन और सर को जोड़ने वाली संधि को क्या कहते हैं? उत्तर - धुराग्र संधि 3 घुटनों की संधि को क्या कहते हैं? उत्तर हिंज संधि 4 अस्थि एवं उपास्थि मिलकर क्या बनाते हैं? उत्तर मानव कंकाल 5 घोंघा किसकी सहायता से चलता है? उत्तर पेशीय पाद  6 क्या कैक्टस मरुस्थल में जीवन यापन के लिये अनुकूलित है? उत्तर-- हाँ --क्योंकि काँटों की वजह से उसमें पानी का ह्रास कम होता है जिसके वजह से वह आसानी से मरुस्थल में जीवन यापन कर पाते हैं। 7 S.I. मात्रकों में लंबाई का मात्रक क्या है? उत्तर - मीटर 8 सरल रेखा के अनुदिश गति को क्या कहते हैं? उत्तर - सरल रेखीय गति 9 ऐसी गति जो एक निश्चित समय अंतराल के पश्चात दोहराती है उसे क्या कहते हैं। उत्तर आवर्ती गति 10 प्रकाश किस किस प्रकार की रेखा में गमन करती है। उत्तर सरल रेखा में 11 विद्युत् - सेल क्या है उत्तर विद्युत् का एक स्रोत 12 जिन पदार्थों से होकर विद्युत् धारा प्रवाहित हो सकती है, वे क्या कहलाते हैं। उत्तर - विद्युत् - चालक 13 जिन पदार्थों से होकर विद्युत्-धारा प्रवाहित नहीं हो सकत

Some Important question - 1

Image
1  हमारे भोजन के मुख्य स्रोत क्या हैं? उत्तर - पौधा एवं जंतु 2  जो जंतु केवल पादप खाते हैं उन्हें क्या कहा जाता है? उत्तर - शाकाहारी 3  जो जंतु केवल जंतुओं को खाते हैं क्या कहे जाते हैं? उत्तर - मांसाहारी 4  जो जंतु पादप तथा दूूसरे प्राणी, दोनों को ही खाते हैंं, उन्हें      क्या कहा जाता है ? उत्तर-  सर्वाहारी। 5  तंतुओं से तागा बनाने की प्रक्रिया को क्या कहते हैं? उत्तर- कताई। 6  वैसा वस्तु जिसके आर पार आसानी से देखा जा सकता है क्या कहलाता है? उत्तर - पारदर्शी 7  वैसा वस्तु जिससे देखने पर धुंधला दिखाई पड़ता है क्या कहलाता है? उत्तर - पारभासी 8  वैसा वस्तु जिससे देखने पर आर पार कुछ भी दिखाई नहीं पड़ता उस वस्तु को क्या कहते हैं? उत्तर - अपारदर्शी  9  हस्तचयन, निष्पावन, चालान, अवसादन, निस्तारण, तथा निस्यन्दन ये सभी क्या हैं? उत्तर - पृथक्करण की विधियाँ 10  भूसा से अनाज को किस विधि द्वारा अलग किया जाता है? उत्तर - निष्पावन द्वारा 11  सामान्यतः पौधों का वर्गीकरण उनकी उचाई, तने एवं शाखाओं के आधार पर किस रूप में किया जाता है। उत्तर - शाक, झाड़ी एवं वृक्ष  12  सामान्यतः पत्ती में क्या होते हैं ?

ब्लैकहॉल कांड एवं प्लासी का युद्ध

Image
ब्लैक हॉल कांड :-   सिराजुद्दौला ने अंग्रेज के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए कलकत्ता पर हमला किया और जून 1756 में फोर्ट विलियम पर अधिकार कर लिया। इस घटना के सम्बन्ध में ब्रिटिश अधिकारी हॉल्वेल ने ब्लैक हौल कांड का उल्लेख किया। ब्लैकहोल कांड का तात्पर्य उस घटना से है जहाँ नबाब ने 146 अंग्रेज बंदियों को एक छोटे से कमरे में कैद किया और अगले दिन उसमें केवल 23 जिन्दा बचे।  प्लासी का युद्ध :-  प्लासी बंगाल के नादिया जिले के भागीरथी नदी के तट पर आम्रकुंज में अवस्थित है। इस युद्ध में ब्रिटिश सेना का नेतृत्व क्लाइव ने किया था। क्लाइव ने षड्यंत्र के माध्यम से नबाब के अधिकारियों को पहले ही अपने पक्ष में कर लिया था। अतः नबाब की सेना पराजित हुई और सिराजुद्दौला को युद्ध के मैदान से भागना पड़ा। नबाब को ओर से मीर मदन एवं मोहन लाल जैसे सैन्य अधिकारियों ने वफादारी दिखाई ।            अब अंग्रेज ने बंगाल का नबाब मीर जाफर को बनाया । इस तरह बंगाल पर ब्रिटिश नियंत्रण की शुरुआत हुई । अब नबाब अंग्रेज के हाथों की कठपुतली थी। जिससे अंग्रेजों ने आर्थिक लाभ प्राप्त किया । इस तरह प्लासी विजय के पश्चात बंगाल की लूट प्रा

अलीवर्दी खाँ - (1740-56) एवं सिराजुद्दौला (1756-1757)

Image
अलीवर्दी खाँ - (1740-56) :-  इसने यूरोपियों की तुलना मधुमक्खियों से की और कहा कि यदि इन्हें छेड़ा न जाये तो यह शहद देंगी और छेड़ने पर काट काट कर मार डालेगी। सिराजुद्दौला (1756-1757) :-  नबाब बनने के साथ ही सिराजुद्दौला को अपने सम्बन्धियों के विरोध का सामना करना पड़ा। इनमें प्रमुख थे पूर्णिया के नबाब शौकतजंग एवं ढाका के नबाब तथा उसकी मौसी घसीटी बेगम थी। अंग्रेजों ने इन्हें संरक्षण दिया । दूसरी तरफ अंग्रेज ने नबाब की अनुमति के बगैर ही कलकत्ता में किलेबंदी शुरू कर दी। अतः सिराजुद्दौला ने अंग्रेज के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए कलकत्ता पर हमला किया और जून 1756 में फोर्ट विलियम पर अधिकार कर लिया। इस घटना के सम्बन्ध में ब्रिटिश अधिकारी हॉल्वेल ने ब्लैक हौल कांड का उल्लेख किया। ब्लैकहोल कांड का तात्पर्य उस घटना से है जहाँ नबाब ने 146 अंग्रेज बंदियों को एक छोटे से कमरे में कैद किया और अगले दिन उसमें केवल 23 जिन्दा बचे।                   अंग्रेज ने कलकत्ता पर पुनः नियंत्रण करने के लिए क्लाइव के नेतृत्व में मद्रास से सेना बुलाई और फोर्ट विलियम पर पुनः अधिकार किया। अब क्लाइब ने नबाब के अधिकारीयों को अ

मुर्शीदकुली खाँ

Image
मुर्शीदकुली खाँ :-   इसे औरंगजेब द्वारा बंगाल का दीवान बनाया गया था। इस समय बंगाल का गवर्नर(सूबेदार) अजीमुशान था। जो राजदरबार से सम्बंधित होने के कारण प्रायः दिल्ली में रहता था अतः बंगाल की वास्तविक शाक्ति मुर्शिदकुली खाँ के पास थी       मुग़ल सम्राट फर्रूखशियर ने 1717 ई० में मुर्शीदकुली खाँ को बंगाल का सूबेदार नियुक्त किया । यह मुग़ल सम्राट द्वारा नियुक्त बंगाल का अंतिम सूबेदार था। इसी के समय से बंगाल में वंशानुगत शासन की शुरुआत होती है। मुर्शीद कुली खान के राजस्व सुधार:- –---------------------------------------- 1 इसने छोटे जमींदारों के विरुद्ध कार्यवाही की और जागीर भूमि का एक बड़ा हिस्सा खालिसा भूमि (राजकीय भूमि) में परिवर्तित कर दिया फलतः राजकीय आय बढ़ी। 2 इसने बड़े जमींदारों को बनाये रखा जो राजस्व वसूली में उसका सहयोग करते थे। अतः इनकी जागीर भूमि को बनाये रखा। 3 किसानों को ऋण की सुविधा (ताकावी) उपलब्ध कराया । 4 मुर्शीद कुली खाँ के सुधारों से नाराज होकर गुलाममोहम्मद, उदय नारायण जैसे जमींदारों ने विद्रोह किया। इन विद्रोह का दमन कर मुर्शीद कुली खाँ ने अपनी राजधानी ढ़ाका से मुर्शिदाबाद में

यूरोपियों का आगमन : फ्रांसीसी कम्पनी और डेनिस कंपनी

Image
 डेनिस कंपनी    1616 ई० में डेनमार्क में डेनिस कंपनी की स्थापना हुई।  इसने ट्रैंकोबार (तमिलनाडु) में 1619 में अपना प्रथम व्यापारिक केंद्र की स्थापना की। किन्तु आगे चलकर अपने सभी केंद्र को ब्रिटिश को बेचकर चले गए।  फ्रांसीसी कम्पनी   फ्रांसीसी ईस्ट इण्डिया कंपनी की स्थापना 1664 में फ्रांस के शासक लुई - 14 के समय वित्तमंत्री कोलबर्ट के प्रयासों से हुई।  फ्रांसीसी कंपनी को राज्य द्वारा विशेषाधिकार और वित्तीय संसाधन प्राप्त थे। इस तरह यह पूर्णतः एक सरकारी कंपनी थी।  1668 में फ्रांसीसी कैंटो के नेतृत्व में प्रथम फ्रांसीसी दल भारत आया और सूरत में व्यापारिक केंद्र का निर्माण किया।  भारत में प्रथम फ्रांसीसी गवर्नर डूप्ले था।                             अंग्रेज और फ्रांसीसियों के बीच यूरोपीय एवं भारतीय कारणों से तीन युद्ध हुए। जिन्हें कर्नाटक युद्ध के नाम से जाना जाता है। इस युद्ध के दौरान 1760 में वांडिवाश की लड़ाई में अंग्रेज ने फ्रांसीसियों को पराजित किया। 

अध्याय 5 : पृथ्वी के प्रमुख परिमंडल

Image
1. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दीजिए। i  पृथ्वी के चार प्रमुख परिमंडल कौन कौन से हैं? उत्तर- भूमंडल, वायुमंडल, जलमंडल और जीवमंडल ii- पृथ्वी के प्रमुख महाद्वीप के नाम लिखिए। उत्तर- एशिया, यूरोप, अफ्रीका, उत्तर अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, अंटार्कटिका  iii - दो महाद्वीपों के नाम लिखिए, जो पूरी तरह दक्षिणी गोलार्ध में स्थित हों। उत्तर- ऑस्ट्रेलिया और अंटार्कटिका iv - वायुमंडल के विभिन्न परतों के नाम लिखिए। उत्तर - क्षोभ मंडल, समताप मंडल, मध्य मंडल, आयन मंडल, बाह्य मंडल v पृथ्वी को नीला ग्रह क्यों कहा जाता है? उत्तर- पृथ्वी को नीला ग्रह इसलिए कहा जता है क्योंकि यहां  71 % जल पाया जाता है और 29 % ही स्थल पाया जाता है। vi उतरी गोलार्ध को स्थलीय गोलार्ध क्यों कहा जाता है? उत्तर - उत्तरी गोलार्ध को स्थलीय गोलार्ध इसलिए कहा जाता है क्योंकि अधिकांश महाद्वीप उतरी गोलार्ध में ही पाया जाता है। vii - जीवित प्राणियों के लिए जीव मंडल क्यों महत्वपूर्ण है? उत्तर - जीवित प्राणियों के लिए जीव मंडल इसीलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यही वह क्षेत्र जहाँ जीवित रहने के लिए सभी महत्वपूर्ण कारक

यूरोपियों का आगमन : डच कंपनी और ब्रिटिश कंपनी

Image
डच कंपनी  डच ईस्ट इण्डिया कंपनी की स्थापना 1602 में हॉलैंड में हुई। इसकी देख रेख के लिए 17 सदस्यीय बोर्ड का गठन किया गया डच सरकार का कम्पनी पर नियंत्रण था और कंपनी द्वारा की जाने वाली संधियाँ डच सरकार के नाम से की जाती थी। डच कंपनी को युध्द करने, संधि करने,  एवं क्षेत्र विस्तार करने की शक्ति सर्कार द्वारा प्रदान की गई थी।                                                             डचों ने बाटविया (इंडोनेशिया ) को अपना मुख्यालय बनाया। भारत स्थित डच कंपनी इसी के प्रति उत्तरदायी थी।                                        डचों ने भारत में कोरोमंडल तट को अपने व्यापार का आधार बनाया और मसूलीपट्नम में अपना प्रथम व्यापारिक केंद्र स्थापित किया।                                       डचों ने मसलों के स्थान पर भारतीय वस्त्र के निर्यात को ज्यादा महत्त्व दिया। इस तरह भारत से वस्त्र निर्यात को सर्वप्रमुख वस्तु बनाने का श्रेय डचों को दिया जाता है। अंततः 1759 में बेदरा का युद्ध में अंग्रेज ने डचों को पराजित कर दिया  ब्रिटिश कंपनी  1598 में अंग्रेजों ने अपनी नौसेना श्रेष्ठता स्थापित कर पूर्वी क्षेत्र में

यूरोपियों का आगमन : पुर्तगाली

Image
1 पुर्तगाली -        भारत में सर्वप्रथम आने वाले यूरोपियों में पुर्तगाली ही थे लेकिन गए थे सबसे अंत में। इन्होने मसाला व्यापार को ध्यान में रखते हुए भारत में प्रवेश किया और विभिन्न स्थानों पर फैक्ट्री, कारखाने, व्यापारिक केंद्र या बस्ती की स्थापना की। यह कारखाना उत्पादन के केंद्र नहीं थे बल्कि भंडारगृह थे। यहाँ पर वस्तुओं का संग्रह कर उन्हें यूरोप भेजा जाता था। यह फैक्ट्री एक किले बंद क्षेत्र जैसी होती थी जिसमें गोदाम, कार्यालय तथा व्यापारियों के लिए आवास भी होते थे।  पुर्तगालीयों ने कारखाना निर्माण की इस पद्धति को इटली के व्यापारियों से प्राप्त किया था।                                                  पुर्तगाली यात्री वास्कोडिगामा सर्वप्रथम 1498 में भारत के पश्चिमी तट कालीकट में आया था जहाँ  उसका स्वागत हिन्दू शासक जमोरिन ने किया था।  उनकी वहाँ  मौजूद अरबी व्यापारियों ने विरोध किया और विरोध का कारण आर्थिक था।                                              भारत में प्रथम पुर्तगाली गवर्नर फ्रांसिस डी अल्मीडा था जिसने नीला पानी नीति ( blue water policy ) अपनायी।  वस्तुतः पुर्तगाली सरकार क

अध्याय 4 : मानचित्र 6th NCERT

Image
                                          4 मानचित्र  1 निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दिजीये। i- मानचित्र के तीन घटक कौन कौन से हैं? उत्तर मानचित्र के तीन घटक निम्नलिखित हैं-         दूरी, दिशा और प्रतीक। ii - प्रधान दिग्बिन्दु कौन कौन से हैं? उत्तर प्रधान दिग्बिन्दु निम्नलिखित हैं - उत्तर, दक्षिण, पूर्व और पश्चिम । iii - मानचित्र के पैमाने से आप क्या समझते हैं? उत्तर - पैमाना, स्थल पर वास्तविक दूरी तथा मानचित्र पर दिखाई गई दुरी के बीच का अनुपात होता है। iv- ग्लोब की अपेक्षा मानचित्र अधिक सहायक होता है, क्यों?  उत्तर - जब हम पूरी पृथ्वी का अध्ययन करना चाहते हैं तब ग्लोब हमारे लिए काफी उपयोगी साबित होता जबकि जब हम पृथ्वी का केवल एक भाग का अध्ययन करना चाहते हैं तो हमें मानचित्र की आवश्यकता होती है और ग्लोब की अपेक्षा मानचित्र में ज्यादा सूचनाएं देखने को मिलती है। v - मानचित्र एवं खाक के बीच अंतर बताएँ। उत्तर - मानचित्र पृथ्वी की सतह या इसके एक भाग का छोटे पैमाना के माध्यम से समतल सतह पर खींचा गया तस्वीर है एक छोटे क्षेत्र का बड़े पैमाने पर खींचा गया रेखा चित्र खाका कहलाता है। v

अध्याय- 3 पृथ्वी की गतियाँ 6th NCERT

Image
  1. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दीजिए।  i -   पृथ्वी के अक्ष का झुकाव कोण क्या है ? उत्तर = साढ़े 23 डिग्री  ii -  घूर्णन एवं परिक्रमण को परिभाषित करें।  उत्तर = पृथ्वी का अपने अक्ष पर घूमना घूर्णन कहलाता है जबकि पृथ्वी का सूर्य के चारों  ओर घूमना परिक्रमण कहलाता है।  iii - लीप वर्ष क्या है ? उत्तर = 366 दिन वाले वर्ष को लीप वर्ष कहते हैं।  iv - उत्तर एवं दक्षिण अयनांत में अंतर बताइए।  उत्तर =  21 जून को उत्तरी गोलार्ध में सबसे लंबा दिन तथा सबसे छोटी रात होती है ठीक इसके विपरीत 22 दिसंबर को दक्षिणी गोलार्ध में सबसे लंबा दिन तथा सबसे छोटी रात होती है इसी को क्रमशः उत्तरी अयनांत एवं दक्षिणी अयनांत कहा जाता है। इस अवस्था में सूर्य प्रकाश क्रमशः कर्क रेखा एवं मकर रेखा पर पड़ता है।  v - विषुव क्या है ? उत्तर = 21 मार्च एवं 23 सितम्बर को सूर्य की किरणें विषुवत वृत्त पर सीधी पड़ती है। इस अवस्था में पृथ्वी पर रात एवं दिन बराबर होते हैं। इसे विषुव कहा जाता है।  vi - दक्षिणी गोलार्ध में उत्तरी गोलार्ध की अपेक्षा उत्तर एवं दक्षिण का अयनांत अलग-अलग समय में होता है, क्यों ? उत्तर = उत्तर