क्या है 1773 का रेगुलेटिंग एक्ट ?

* यह भारत में ईस्ट इण्डिया  कंपनी के कार्यों को नियमित और नियंत्रित करने की दिशा में उठाया गया ब्रिटिश               सरकार का पहला कदम था। 

* इसके द्वारा पहली बार कंपनी के प्रशासनिक और राजनैतिक कार्यों को मान्यता मिली। 

* इस एक्ट के द्वारा भारत में केंद्रीय प्रशासन की नींव रखी गई। 

अधिनियम की विशेषताएं 

* इस अधिनियम द्वारा बंगाल के गवर्नर को बंगाल का गवर्नर जनरल पद नाम दिया गया एवं उसकी सहायता के लिए चार सदस्यीय कार्यकारी परिषद का गठन किया गया। बंगाल के प्रथम गवर्नर जनरल लार्ड वारेन हेस्टिंग थे। 

* इसके द्वारा मद्रास एवं बम्बई के गवर्नर , बंगाल के गवर्नर जनरल के अधीन हो गए, जबकि पहले सभी प्रेसिडेंसी के गवर्नर एक दूसरे से अलग थे। 

* अधिनियम के अन्तगर्त कलकत्ता में 1774 में एक उच्चतम न्ययालय की स्थापना की गई , जिसमे मुख्य न्यायधीश और तीन अन्य न्यायधीश थे। 

* इस अधिनियम के तहत कंपनी के कर्मचारियों को निजी व्यापार करने और भारतीय लोगों से उपहार व् रिश्वत लेना प्रतिबंधित  कर दिया गया। 

* इस अधिनियम के द्वारा , ब्रिटिश सरकार का कोर्ट ऑफ़ डायरेक्टर्स के माध्यम से कंपनी पर नियंत्रण सशक्त हो गया। 

6th NCERT

ECONOMICS

GS

HISTORY

NCERT Solution


Comments

Popular posts from this blog

अध्याय- 3 पृथ्वी की गतियाँ 6th NCERT

अध्याय 2. ग्लोब : अक्षांश एवं देशांतर 6th NCERT

अध्याय 7 हमारा देश : भारत 6th NCERT